Full Form of VPN : What is VPN Full Form In Hindi की पूरी जानकारी

सभी जानकारी पाने और पैसे कमाने के लिए हिए हमसे जुड़े

VPN Full Form | Full Form of VPN : VPN क्या है?(What is VPN Full Form) Virtual Private Network क्या है और कैसे Work करता है? वर्तमान में सभी लोग Computer, Smartphone और Internet का उपयोग करते हैं। Internet का उपयोग करते समय आपने देखा होगा की कई Websites Open नहीं होती। क्योंकि कई Website को देश में बैन कर दिया जाता है जिस कारण वो Open नहीं होती। लेकिन क्या आपको पता है की इन Websites को VPN Server से Open किया जा सकता है। 

आपने बिलकुल सही पढ़ा है। VPN का उपयोग करके उन सभी Websites को Access किया जा सकता है जिनको देश में बैन किया जा सकता है। इसके अलावा अपनी Personal Information को Hackers से बचाने के लिए VPN Server का उपयोग किया जाता हैं। इस लेख में हम VPN से संबंधित सभी जानकारी जानेंगे। ताकि आप भी अपने Personal Information को Hackers से बचाकर रखें। और जो Websites देश में बैन है उनको भी आप Access कर सकते हैं। लोग Google में Search करते हैं कि VPN Full Form In HindiFull Form of VPN?

तो चलिए जानते है कि Full Form of VPN क्या है? VPN क्या होता है और कैसे Work करता है? 

VPN क्या है? What is VPN Full Form? Full Form of VPN?

VPN का फुल फॉर्म Virtual Private Network होता है। VPN एक Private Network है जो Private Network और Public को सुरक्षा मुहैया कराता है। WWW (World Wide Web) पर अपने database को Hackers से बचाने के लिए User VPN Server का उपयोग किया जाता है। Virtual Private Network, Internet पर User के IP(Internet Protocol) Address को Fake IP Address में बदल देता है। जिससे Hackers को Actual IP Address का पता नही चलता। और Data Safe and Secure तरीके से Transfer होता है।

VPN एक Safe and Secure प्रणाली है। जो Data को Secure करती है। VPN का ज्यादातर उपयोग Multinational Company, Education System द्वारा किया जाता है। Data Transfer करते समय VPN Sefe and Secure Encrypted Connection बनाता है जिससे Safely Data Transfer होता है। 

VPN Full Form -Virtual Private Network

VPN Server कैसे काम करता है?

VPN Server क्या होता है, इसके बारे में आपको जानकारी समझ आ चुकी है। अब जानते है की VPN Server कैसे काम करता है? जिससे आपको VPN से संबंधित पूरी जानकारी पता चल जाए। तो चलिए जानते है की VPN कैसे काम करता है?

जैसे की हम ऊपर जान चुके है की VPN Server हमारे Internet Data को Safely and Secure Transfer करता है। इसके अलावा VPN से देश में बैन Websites को भी Access कर सकते हैं। जब कोई बैन Websites को VPN की मदद से अपने Smartphone या Computer की मदद से Access करता है तो उसकी Request हमारे IPS (Internet Service Provider) के पास जाती है। इसके बाद उस Request को Website के Server पर भेजा जाता है जिससे उस Server पर Uploaded सारी जानकारी हमारी Device की Screen पर Show होने लगती है। 

जब किसी Website को देश में बैन किया जाता है तो उसकी जानकारी सरकार द्वारा IPS Server को दी जाती है। और जब कोई User उसी Website को Access करता है और IPS Server को Request करता है तो IPS Server उसको Reject कर देता है। और आगे Forward नहीं करता। जिससे हमे उस Website की जानकारी show नहीं होती है।

लेकिन जब हम किसी Website को VPN Server द्वारा Access करते है तो Internet Service Provider को लगता है की हम उसके VPN Server को Access करना चाहते है और उसको Pass कर देता है। जिसके बाद VPN हमें उस Website से Connect कर देता है। जिससे हमे उस Website की सारी जानकारी Show हो जाती है। 

इसे भी पढ़े :- SSC GD Full Form?

VPN का Use क्यों करते हैं? Full Form of VPN

Full Form of VPN
Full Form of VPN : What is VPN Full Form In Hindi की पूरी जानकारी 1

VPN का उपयोग Users अपने Data को Safely and Securely तरीके से Transfer करने के लिए भी करते है। VPN से Data Transfer करते समय यह User के IP Address को Fake IP Address में बदल देता है जिससे Data चोरी करने वाले Hackers को Original IP Address का पता नही चल पाता। इसके अलावा VPN हमें अपनी Location को Select करने का भी विकल्प देता है जिससे किसी को भी हमारी Actual Location का पता नही चल पाता।

VPN से Data Transfer करते समय VPN के कुछ Network Protocol Rules को Follow करना पड़ता है। 

  • IPSec – IP Security
  • L2TP – Layer2 Tunneling Protocol
  • TLS – Transport Layer Security
  • SSL – Secure Socket Layer
  • PPTP – Point to Point Tunneling Protocol
  • DTLS – Datagram Transport Layer Security 

Virtual Private Network Software

Internet पर कई VPN Software उपलब्ध है। जिनमे कई VPN Software Free है और कई VPN Software Paid है। User को अपनी जरूरत के अनुसार किसी भी Software को Use कर सकता है। जैसे की यदि आपको केवल बैन Websites को Access करना है तो आपको Free VPN Software का उपयोग करना चाहिए। और यदि आप Data Transfer करना चाहते है तो Paid VPN Software का उपयोग करना चाहिए। ताकि आपका Data पूरी तरह से Safe and Secure रहें।

  • OpenVPN
  • Free VPN Master
  • Cyber Ghost
  • Hotspot Shield
  • Total VPN
  • Finch VPN
  • Surf Easy
  • Safer VPN
  • Surf Easy
  • Turbo VPN
  • Buffered VPN
  • Tunnel Bear
  • Thunder VPN

इसे भी पढ़े :- OT Full Form?

इसे भी पढ़े :- BPL Full Form In Hindi?

VPN Software को Select करते समय निम्न बाते ध्यान में रखें?

VPN Server को Select करते समय आपको यह ध्यान में रखना चाहिए की आप क्या काम करने के लिए VPN Server का उपयोग कर रहे हैं। क्योंकि यह आपके Network Protocol पर निर्भर करता है। जैसे :

  • PPTP (Point to Point Tunneling Protocol) का उपयोग WiFi Use में लेते समय करना अच्छा होता है क्योंकि यह WiFi Speed को बढ़ा देता है।
  • L2TP (Layer2 Tunneling Protocol) ज्यादा Safe and Secure है जिसका उपयोग Email, Banking के कामों के लिए करना अच्छा रहता है।
  • IPSec (IP Security) का उपयोग Data को Secure तरीके से Transfer करने के लिए किया जाता है।
  • SSL (Secure Sockets Layer) और TLS (Transport Layer Security) का उपयोग Important Documents को Transfer करने के लिए किया जाता है। क्योंकि यह बहुत ही सुरक्षित Network Protocol हैं।
  • Free VPN Server का उपयोग केवल बैन Websites को Access करने के लिए किया जाता है। क्योंकि सभी VPN Server भी अच्छे नहीं होते। कुछ Data को चुरा लेते है और उसका Illegal Use करते है।
  • यदि आप किसी Other Country की बैन Website को चलाना चाहते हैं तो केवल Exit VPN Server का उपयोग करें। क्योंकि इस server का उपयोग करने पर केवल उसी Country को आपकी Location पता चलती है जिस देश की आप Website चला रहे है।

Internet की दुनिया में कई VPN Server उपलब्ध है। जिनमे से कई Software User के Data को चुरा लेते है। उसको Leak कर देते है। या फिर किसी को Sell कर देते हैं। इसलिए जब भी VPN Software को Use करे पहले उसके बारे में अच्छे से जांच कर लें।

इसे भी पढ़े :- MDM Full Form?

FAQ : Full Form of VPN | VPN Full Form In Hindi

Q 1 : What is VPN Full FormVPN क्या है?
VPN Full Form – Virtual Private Network होती है। VPN एक प्राइवेट नेटवर्क है जो Data को सुरक्षित तरीके से Transfer करने का काम करता है। 
Q 2 : VPN कैसे काम करता है
VPN डाटा को चोरी होने से बचाने के लिए Original IP Address को Fake IP Address से बदल देता है। जिससे Hackers की नजर से Data Transfer, Safe and Secure तरीके से हो जाता है।
Q 3 : कौनसा VPN Software अच्छा है?
Internet पर कई VPN Software उपलब्ध है। जो अलग अलग काम के लिए Use किए जाते है। इस में अपनी जरूरत के अनुसार आप किसी अच्छे VPN Software को Select कर सकते हैं।

निष्कर्ष : Full Form of VPN | VPN Full Form In Hindi

आशा है दोस्तों आपको VPN Full Form In Hindi | Full Form of VPN | What is VPN Full Form समझ में आई होगी। आप भी VPN Server का उपयोग करें तो उसके बारे में अच्छी से जांच करके Use करें। VPN Full Form In Hindi लेख को अपने दोस्तों के साथ साझा करें। क्योंकि आजकल लोग VPN से PUBG, Free Fire जैसे Game खेलते हैं। ऐसे में उनको यह जानना जरूरी हो जाता है की What is VPN Full Form In Hindi, इस लेख से संबंधित आपका कोई सवाल है तो उसे Comments बॉक्स में पूछे। हम जल्दी ही जवाब देंगे।

Related Posts to VPN Full Form In Hindi

GIF Full Form In HindiSIP Full Form In Hindi
OCR Full Form In HindiRAS Full Form In Hindi
DRx Full Form In HindiCDS Full Form In Hindi
NEFT Full Form In HindiRTPS Full Form In Hindi

Leave a Comment

घर बैठे पैसे कैसे कमाए? सीखना चाहते है?

You have successfully subscribed to the newsletter

There was an error while trying to send your request. Please try again.

Rupay Kamaye will use the information you provide on this form to be in touch with you and to provide updates and marketing.